-->

Hindi Diwas Speech In Hindi

मेरे भारत महान में हर साल अलग अलग तरह के दिवस मनाये जाते है जिसकी बाल दिवस, शिक्षक दिवस, गणतंत्र दिवस, स्वतंत्रता दिवस आदि ऐसे और बहुत सारे पोपुलर दिवस है जो भारत में बड़े हर्ष और उल्लाश के साथ मनाये जाते है इसी तरह भारत में हर साल 14 सितम्बर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है



जैसा की हम सब जानते है हमारी मातृभाषा भी हिंदी है और भारत वर्ष में सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषा है हिंदी दिवस के दिन स्कूल, कॉलेज, और यहाँ तक की ऑफिस में हिंदी निबंध (essay), हिंदी वाद-विवाद प्रतियोगिता आदि अनेको कार्यकर्मो का आयोजन कराया जाता है 

विधालय और कॉलेज में इस दिन शिक्षक अपने छात्र को अपने हिंदी होने का महत्त्व कराते है और हिंदी के प्रति सम्मान और उपयोग करने की शिक्षा के साथ हिंदी दिवस पर भाषण देते है और हिंदी दिवस का महत्त्व समझाते है 

अगर आप एक छात्र है तो लेख आपके लिए बहुत ही उपयोगी है क्युकी अक्सर स्कूल में हिंदी दिवस पर भाषण और हिंदी दिवस स्पीच के बोला जाता है अगर ऐसा है तो आप इस लेख इस्तेमाल अपने हिंदी दिवस भाषण या हिंदी दिवस स्पीच में कर सकते है 

हिन्दी दिवस पर भाषण हिंदी में (Hindi Diwas Speech In Hindi)


हिंदी दिवस पर भाषण आप इस प्रकार शुरू कर सकते है - हिंदी दिवस पर भाषण

आदरणीय मुख्य अतिथि, शिक्षको और मेरे सभी प्यारे दोस्तों को मेरा नमस्कार 

आज हम सब यहाँ पर 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मानाने के लिए एकत्र हुए है सबसे पहले तो आपको हिंदी दिवस इस मौके के लिए बधाई देना चाहूँगा और आप सब ने मुझे हिंदी दिवस के इस मौके पर विचार प्रतुत करने का अवसर दिया उसके लिए आप सभी धन्यवाद देता हु आज 14 सितम्बर के दिन को पुरे भारत में हिंदी दिवस को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है

साल 1918 में महात्मा गाँधी द्वारा एक हिंदी साहित्य सम्मेलन में हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने को कहा था और दिन 14 सितम्बर सन 1949 को सविधान सभा में यह तय किया गया की हिंदी भाषा ही भारत की राजभाषा होगी 

और जबसे हिंदी भाषा को देवनागरी लिपि में भारत की कार्यकारी और राजभाषा का दर्जा अधिकारिक रूप से दे दिया गया महात्मा गाँधी जी ने तो यह भी कहा है हिंदी भाषा के लिए कहा है हिंदी भाषा जनमानस की भाषा है भारतीय सविधान भाग 17 के अध्याय की धारा 343 (1) में हिंदी भाषा को राजभाषा का दर्जा प्राप्त है

हिंदी दिवस के लिए 14 सितम्बर का दिन बहुत महत्वपूर्ण होता है क्युकी इस दिन भारत में हम अपनी राजभाषा हिंदी का प्रचार और प्रसार करते है क्युकी हिंदी पूरी दुनिया में सबसे अधिक बोले जाने वाली मूल भाषा है

सेंसेक्स ने भी 2011 में अपने एक रिपोर्ट में बताया है कि भारत में हिंदी सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषा है आप यह अनुमान इस आकडे से लगा सकते है 2001 में मातृभाषा हिंदी बोलने वाले लोगो का 41.03 % था जबकि 2011 में यह अकड़ा बढ़कर 43.63% हो गया हम आपको यहाँ पर बताना चाहेंगे की हिंदी भाषा का इतिहास लगभग एक हजार साल से ज्यादा पुराना है और मेरे भारत महान देश में यह सन 1949 से हर साल 14 सितम्बर को मनाया जाता है

हम भारत के नागरिक है है और हम भारतीयो के जीवन में हिंदी दिवस और हिंदी भाषा का बहुत ही अहम् भूमिका है हिंदी हिंदुस्तान की राजभाषा ही नहीं बल्कि हम भारतीयों की पहचान व् गौरव है आज भले ही हम हिंदी से थोड़े डिसकनेक्ट हों रहे है क्युकी आज हम अग्रेज़ी भाषा की तरफ बढ़ रहे है हाँ मैं मानता हु आज के समय में हमें इंग्लिश भाषा का पूर्ण ज्ञान होना चाहिए पर हमें अपनी मातभाषा हिंदी को नहीं भूलना चाहिए और हमें इस नारे "हिंदी हम वतन है" नारे का सम्मान करना चाहिए और इसी के साथ आप सब एक बार फिर हिंदी दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाये !! 

उपरोक्त हिंदी भाषण-1 को आप अपने फंक्शन में हिंदी दिवस के मौके पर अपने स्पीच के लिए बोल साकते है अगर यह आपके लिए थोडा बड़ा पैराग्राफ है तो आप अपने स्पीच में हिंदी दिवस भाषण-2 का प्रयोग करें 

हिंदी दिवस भाषण-2 


आदरणीय प्रधानाचार्य महोदय जी, सभी गुरुजनों और मेरे सभी साथियों को मेरा नमस्कार 

जैसा की हम सब यहाँ पर 14 सितम्बर के हिंदी दिवस को सेलिब्रेट करने के लिए इक्कठे हुए है और मैं आप सभी को हिंदी दिवस की अनेको बधाई देना चाहूँगा आज का दिन हम सब के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है क्युकी आज के दिन यानी 14 सितंबर 1949 को हमारे हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा का दर्जा मिल था हिंदी पुरे दुनिया में अधिक बोले जाने वाली भाषा है और यह हम सब के लिए बड़े ही गर्व की बात है आज के दिन हम आपने राष्ट्रभाषा हिंदी के लिए लोगो में जागरूकता फैलाते है और हिंदी भाषा को बढावा देने का प्रयास करते है 

निष्कर्ष 

हमें अपने राष्ट्रभाषा हिंदी का सम्मान करना चाहिए और जितना हो सके हमें अपने हिंदी भाषा के लिए हम भारतीयों में जागरूकता की भावना को पैदा करना चाहिए क्युकी किसी भी देश की पहचान उसकी राष्ट्रभाषा से होती है मुझे उमीद है Hindi Diwas Speech In Hindi पर आर्टिकल आपको अच्छा लगा होगा यहाँ हमने यह स्पीच अपने सब्दो में कही है अगर इस हिंदी स्पीच के लिए कोई feadback या आप इस स्पीच में अपना योगदान देना चाहे तो आप कमेंट बॉक्स में जरुर शेयर करें 

इस आर्टिकल को यहाँ तक पढने के लिए आपका बहुत बहुत सुक्रिया यह हिन्द यह भारत !!!

Post a Comment

Previous Post Next Post