-->
How To Save Water In Hindi - क्या आप गूगल सर्च कर रहे है पानी कैसे बचाएं तो आप को हम थैंक्स कहना चाहेंगे क्युकी आप मनुष्य जाती का हित चाहते है तभी आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे है हम आपको कम्पलीट जानकारी देने वाले है कैसे आप जल बचा सकते है और साथ-२ आप आने वाले समय में पानी की कमी में योगदान कर सकते है तो चलिए शुरू करते है पर उस से पहले..

हम अपने जन्म से ही यह सुनते है कि जल ही जीवन है पर क्या हम यह समझते है कि जल का हमारे जीवन में क्या महत्त्व है शायद नहीं अगर आप जल का महत्व समझते तो इस तरह जल का विनाश न करते

जबकि हम सब जानते है जल के बिना जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती बल्कि जीवनयांपन करने के लिए जल की बहुत अहम् भूमिका होती है यहाँ पर यह कथन सत्य है जल के बिना जीवन संभव नहीं है

आज के समय से कही सदियों पहले ही रहीम दास जी ने यह बता दिया था जल का हमारे जीवन में महत्व रखता है पर हम आज भी जल को लेकर गंभीर नहीं है और बारम्बार जल को बर्बाद करते रहते है

रहीम दास जी ने जल के लिए बहुत ही खूब दोहा भी लिखा है दोहा इस प्रकार है आप निचे पढ़ सकते है

रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून।
पानी गये न ऊबरे, मोती, मानुष, चून॥

इस दोहे में रहीम जी कहते है - रहीम ने पानी को तीन अर्थो में वयक्त किया है पानी का पहला अर्थ मनुष्य के सदर्भ में है रहीम कहते है मनुष्य में विनम्रता (पानी) का भाव होना चाहिए पानी का दूसरा अर्थ आभा यानी तेज़ या चमक से है जिसके बिना मोती का कोई मूल्य नहीं है पानी का तीसरा अर्थ जिसे आटे
(चुन) से जोड़कर दर्शाया गया है रहीम जी कहते है जिस तरह आते का अस्तित्व पानी के बिना नर्म नहीं हो सकता और मोती का मूल्य उसकी आभा के बिना नही हो सकता ठीक उसी तरह मनुष्य को अपने व्यवहार विनर्मता (पानी) रखना चाहिए नहीं तो उसका मूल्यह्रास हो जाता है

जैसा की हम सब जानते है इन दिनों समर का टाइम चल रहा है अक्सर इन दिनों देश के कई हिस्सों में पानी की बहुत ही विकराल समस्या उत्पन हो जाती है और यह समस्या प्रतिवर्ष बढती जाती है लातूर शहर इसका का एक उदारहरण है आप निचे इमेज देख सकते है लातूर शहर में पानी की कमी से क्या हाल है यहाँ के हालात पानी की कमी के कारन अत्यंत भयाभय है आप तस्वीरे भी देख सकते है जो रूह को हिला देने वाली है





हम हमेशा गर्मियों के मौषम में यही सोचते है की जैसे तैसे बस गर्मी का सीजन निकल जाए और बारिश के मानसून का इन्तजार करते है जिस से की पानी की समस्या दूर हो जाए इस कारन हम पानी के बचाव में आनाकानी करते है और पानी बर्बाद करते है रहते है और बचाते नहीं है

लेकिन आज मानव जाती के फ्यूचर को बचाना है तो आपको पानी बचाने को लेकर सीरियस होना पड़ेगा अगर आप पानी के बचाने को लेकर गंभीर नहीं हुए तो यह बात बिलकुल सही साबित होगी

तीसरा विश्व युद्ध पानी के लिए होगा

जल संसाधन
जल संसाधन वह स्रोत है जो मनुष्य के इस्तेमाल के लिए उपयोगी हो अथार्थ उपयोग की संभवना हो जल के उपयोग में शामिल है कृषि, धरेलू जलयापन, औद्योगिक, आदि ज्यादातर इन सभी में ताजे जल की बहुत ज्यादा जरुरत होती है

इस धरती पर 3 चौथाई भाग पानी का है पर इसमें से 97% पानी खारा है पिने योग्य पानी नहीं है पिने योग्य पानी की मात्रा सिर्फ 3% ही है इसमें भी 2% भाग गलेशियर और बर्फ के रूप में है इसप्रकार सिर्फ 1% पानी ही मनुष्य के लिए उपयोगी है जिसे वह अपने जीवन को बचाने के लिए इस्तेमाल कर सकता है

जल के स्त्रोतों को मुख्य रूप से तीन भागो में बता जा सकता है इस प्रकार है
धरातल के उपरी स्रोतों से प्राप्त जल - यह वर्षा जल होता है लेकिन अगर इसमें लापरवाही दिखाई जाए तो धरा पर आने से इसमें कई प्रकार की अशुधिया हो जाती है

धरातलीय जल - नदी, झील, आदि इसके उदारहरण है

अंतंत धरातलीय जल - अक्सर आपने गाँव में कुए, बोरिंग, बावड़ी आदि देखे होंगे यह अंतंत धरातलीय जल के उदहारण है

जल सरंक्षण की आवश्यकता क्यों है और इसको आपको क्यों गंभीरता से लेना चाहिए

दिन प्रतिदिन शहरीकरण,जनसंख्या वृद्धि, तथा औधोगिकीकरण के कारन इस्तेमाल किये जाने वाले पानी की मात्रा कम होती जा रही है और जल संसधानो पर बोझ बढ़ता जा रहा है पानी की डिमांड बढ़ रही है और वही दूसरी और प्रदूषण और मिलावट के कारन इस्तेमाल किये जाने वाले संसाधनों में गिरावट आ रही है

इसके साथ साथ भूमिगत जल स्तर में भी कमी आ रही है ऐसे में हमें जल संसधानो की बहुत ज्यादा जरुरत है

हम आपको जानकारी देना चाहेंगे की 22 मार्च को पुरे विश्व में विश्व जल दिवस ( World Water Day ) के रूप में बनाया जाता है इस दिन का मुख्य उदेश्य जल सरक्षण के प्रति लोगो में जारुकता फैलाना है

यहाँ पर अटल जी कहते थे

अगर आज भी लोग जल संरक्षण (पानी संक्षण) को लेकर गभीर नहीं हुए तो तो तीसरा विश्व युद्ध पानी के लिये होगा

आपने उपर कुछ उदहारण देखे है अब यह बात बिलकुल सही लगने लगी है

जल संरक्षण के उपाय

घरेलू जल सरंक्षण / How to save water at home
घर के बाहर जल संरक्षण
वृक्षा रोपण / Plantation
जल संरक्षण हेतु कानून
औधोगिक क्षेत्र में नई तकनीक
वर्षा जल संचयन / Rain water harvesting in Hindi
जल जागरूकता कार्यक्रम
वाटर ओवरफ्लो अलार्म लगाएं
Flush के अन्दर पानी की बोतल में बालू-कंकड़ भर कर डाल दें
Water Supply के पानी को अपना पानी समझें
उतना ही पानी लें जितना पीना है
RO Machine या AC से निकलने वाले  waste water को उपयोग करें
Hand-Pump का प्रयोग करें
सब्जियां-फल किसी बर्तन में धोएं
Wash-basin का फ्लो कम कर दें
Bathroom में एक-आध बाल्टी एक्स्ट्रा रखें
प्लम्बर का हल्का-फुल्का काम खुद सीखें
जो भी पानी बर्वाद करता है उसे रोकें

निष्कर्ष 
How To Save Water In Hindi - हमें उमीद है आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा और आप पानी बचाने के लिए इस आर्टिकल आगे और भी शेयर करेंगे और हम यहाँ पर जानना चाहेंगे की आप जल बचाने के लिए क्या क्या कदम उठाये आप कमेंट बॉक्स में जरुर शेयर करें जिस से और भी लोग inspire हो सके और अधिक से अधिक जल बचाए इस आर्टिकल को यहाँ तक पढने के लिए सुक्रिया  

Post a Comment

Previous Post Next Post