-->

क्या आप Cab की Full Form क्या है ऐसा कुछ सर्च करके आए है अगर हा तो आप बिलकुल सही आर्टिक्ल पढ़ रहे है क्यूकी आज हम आपको इस आर्टिक्ल में Cab Full Form क्या है के बारे में जानकारी देने वाले है अगर आप Cab full form और Cab से समन्धित सभी जानकारी जानना चाहते है तो इस आर्टिक्ल को लास्ट तक पढे आपको कंप्लीट पूरी जानकारी मिल जाएगी तो चलिए ज्यादा देरी न करते हुये शुरू करते है आज का आर्टिक्ल...!

Let's Begin...

    CAB Full Form In Hindi


    Cab की फुल्ल फोरम क्या है - What is the full form of cab

    CAB Full Form - Cab की Full Form Citizenship Amendment Bill है इसे हिन्दी में नागरिकता संशोधन विधेयक कहते है यह एक नागरिकता संशोधन विधेयक  (Citizenship Amendment Bill) है और इस विधेयक को इस्तेमाल कर The Citizenship Act, 1955 को बदलने की तैयारी है ताकि अन्य देशो को भारत की नागरिकता मिल सके जिसमें निम्न देश शामिल है अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान इन सब देशो में मौजूद हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई अल्पसंख्यकों लोगों को भी भारत की नागरिकता मिल सके सीधा सरल शब्दो में कहे तो यह Amendment Bill भारत के पड़ोसी मुस्लिम बहुल देशों के गैर मुस्लिम शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दिलाने का आसान रास्ता बनाता है 

    जैसे की हम उपर बात कर चुके है The Citizenship Act, 1955 को बदलने की तैयारी है तो Citizenship Act, 1955 कहता है अगर किसी को भी भारत की नागरिकता चाहिए वह पिछले 12 महीने से भारत में रह हो और इसके साथ बीते 14 सालो में से भी वह 11 सालो तक भारत में ही रहा हो पर संशोधन के जरिए 11 साल की जगह इस 6 वर्ष किया जा रहा है पर यहा पर इसके साथ यह भी है शर्त या विशिष्ट परिस्थिति यह भी है की उपर बताए 6 धर्मो और तीन देशो से तालुक हो जो भी आवेदक या नागरिक भारत की नागरिकता लेना चाहता है 

    CAB क्या है?


    CAB भारत सरकार द्वारा बनाया ग्या ऐसा Amendment Bill है जिसमें सभी धर्मो के अल्पसंख्या व्यक्तियों को भारत की नागरिकता दी जाएगी पर इसमें मुस्लिम वर्ग शामिल नहीं है यह बिल Citizenship Act, 1955 को संशोधित कर इसमें बदलाव की खातिर पारित किया ग्या है 

    CAB में कौन कौन से धर्म और देशो को नागरिकता देने का प्रावधान है ?

    Cab में गैर-मुस्लिम हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी आदि धर्म के लोगों को भारत की नागरिकता देने का प्रावधान है इसमें निम्न देश शामिल है बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान समेत कई आस-पास के देशों को शामिल किया ग्या है

    CAB कब पास हुआ ?

    Cab यानि Citizenship Amendment Bill 11 Dec 2019 को राज्यसभा में 26 वोटों की अधिकता से पारित किया गया इस बिल की पास होने दौरान 6 घंटे की बहस हुई और अमित शाह ने इस बिल से समन्धित सभी सवालो के जवाब भी दिये

    CAB से बदलाव के बाद कितने साल भारत में रहने से नागरिकता मिलेगी?

    अगर कोई आवेदक भारत की नागरिगता चाहता है तो उसे कम से कम भारत में 6 साल बिताने होंगे जो बिल पास होने से पहले 11 वर्ष की थी

    निष्कर्ष

    आज हमने इस आर्टिक्ल में Cab क्या है और CAB Full Form के बारे में जाना अगर आपको यह आर्टिक्ल अच्छा लगा तो इस आर्टिक्ल को अपने सभी दोस्तो के साथ सोश्ल मीडिया पर शेयर करें अगर आपको इस आर्टिक्ल से समन्धित कोई सवाल हो तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है इस आर्टिक्ल को यहा तक पढ़ने के लिए शुक्रिया...!

    Post a Comment

    Previous Post Next Post